कान्हा


Image result for इमेजकृष्णा

साभार गुगल


रोएगी सगरी ब्रिज की ये गलिया
हंस ना सकेगी मधुबन की कलियाँ
अब के बिछुर के गले मिल न सके
हठ कर ज़ी भर रोएगी ये अखियाँ
आराधना राय अरु

Comments

Popular posts from this blog

मीरा के पद

तेरी मुरलिया सुन

भक्ति रस