भक्ति गीत


चित्र साभार गुगल
   

    1   वन - वन घुमे राधा प्यारी
         किन नयनं कि आस में
         जहाँ पिया  से मिलेगे.........

      2  साँचा मनवा भटकत काहे
          पाए नहीं क्यों चैन रे
          दिया बन के चलेगे..........

   3   बाती बिना नहीं जलता दीपक
        ज्योति बुझे ना आस कि
        जियरा फूल खिलेगे .................

 4    कान्हा - कान्ह टेर लगाई
       मधुबन के बाल - ग्वाल ने
        सगरे  मिल के चलेगे.............


5     तुम बसते मन मंदिर न्यारे
       श्रद्धा भर विश्वास में "अरु"
       कान्हा- राधा संग मिलेगे

         आराधना राय "अरु"


Comments

Popular posts from this blog

मीरा के पद

श्याम

भक्ति रस